रविवार, 1 नवंबर 2020

 इन्टरनेट कैसे चलता है - internet kaise chalta hai

internet kaise chalta hai


दोस्तों आजकल हम सब बहुत सारी सोशल मिडिया का यूज़ करते हैं | जैसे फेसबुक, गूगल, youtube, instagram | इन पर लाखों GB का डाटा अपलोड हो रहा है | डाउनलोड हो रहा है | ये सब कैसे हो रहा है | क्या आपको पता है कि youtube पर हर मिनट 400 घंटे की विडियो अपलोड हो जाती है | इन्टरनेट आज की दुनिया में बहुत बड़ा बन चुका है | और यह हमारे लिए बहुत उपयोगी हो गया है |

अगर सामान्यतः देखा जाये तो इन्टरनेट आज के समय में हमारी जरूरत के साथ-साथ आदत भी बन चुका है | लेकिन क्या आपको पता है कि इन्टरनेट कैसे चलता है | यह सब कैसे संभव हो पाता है | कोई एक चीज सोशल मीडिया पर किसी देश में अपलोड होती है | लेकिन सभी देश उसे आसानी के साथ कैसे देख पाते हैं | आखिर सभी देशो के बीच क्या सम्बन्ध है | आज हम आपको बताने वाले हैं कि इन्टरनेट क्या है कैसे चलता है, हिस्ट्री और बहुत सारी जानकारियों के बारे में बात करूंगा |

इन्टरनेट एक ग्लोबल नेटवर्क है | जोकि बहुत सारे कंप्यूटर और डिवाइस को एक दूसरे से जोड़ता है | इन्टरनेट के माध्यम से दुनिया में कही भी स्थित कंप्यूटर एक दूसरे से डेटा का आदान-प्रदान कर सकते हैं | जब दो या दो से अधिक कंप्यूटर आपस में जुड़ते हैं जो उसे एक नेटवर्क कहते हैं | अब जैसे स्कूल, बैंक, सरकारी बहुत सारे नेटवर्क होते हैं | जिनको इन्टरनेट आपस में जोड़ता हैं |

इन्टरनेट का इतिहास

1957 में रूस ने सबसे पहले इन्टरनेट का सेटेलाइट लाँच किया था | इसके बाद अमेरिका ने युद्ध जैसे हालत से निपटने के लिए एडवांस्ड रिसर्च प्रोटेक्ट एजेंसी की स्थापना की | इसके बाद डर्पा ने रिसर्च करके अर्पानेट नामक एक कोम्युनिशन सिस्टम बनाया | विन्सेप और रोबट ने मिलकर डर्पा की मद्द के लिए TCPIP प्रोटोकॉल बनाया | दोस्तों विन्सेप और रोबट को ही इन्टरनेट का अविष्कारक कहा जाता है |

आप के मन में अब भी बार-बार यह सवाल आ रहा है कि इन्टरनेट कैसे चलता है | तो अपको बता दें कि इन्टरनेट केबल्स के जरिये चलता है | 99% इन्टनेट इन्ही केबल्स के जरिये चलता है | बाकी 1% इंटरनेट मईनेसेटेलाइट के जरिये चलता है | यह केबल पूरी प्रथ्वी पर बिछी हुई है | इस केबल का दूसरा नाम ऑप्टिकल केबल्स फिबेर्स होता है | यह केबल कांच की बनी होती है |

और इसका आकर मानव शरीरके बाल जितना होता है | तो आपका जितना भी डेटा और इनफार्मेशन होता है | वह सब इन्ही बाल जैसी पतली केबल्स के माध्यम से जाता है | मतलब कि ये जो आप यह जानकारी हमारी वेबसाइट पर पढ़ रहे हैं | यह इन्ही केबल्स के माध्यम से आप तक पहुँच रही है |

आब आप सोंच रहे होंगे कि इस केबल्स को किसने और कैसे बिछाया है | तो इन केबल्स को देश की बड़ी-बड़ी प्राइवेट कंपनियों ने अपने पैसे लगाकर बिछया है | भारत में इन्टरनेट की सुरुआत सन 1986 में हुई थी | जोकि केवल शिक्षा और स्रोत के काम आती थी | 14 अगस्त 1995 को उस समय की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी विदेश संचार निगम लिमिटेड ने आम नागरिको के लिए भी लाँच किया | उस समय दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई जैसे बड़े शहर के लोग इन्टरनेट को एक्सेस कर सकते थे |

उस समय इन्टरनेट की स्पीड 916 kb प्रति सेकेण्ड होती थी | और केवल 10 दिनों के लिए लगभग 1000 रूपये का चार्ज किया जाता था | इसके बाद 1 अक्टूबर 2000 को बेअस्नल की स्थापना हुई थी | फिर भी इन्टरनेट पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा | इसके बाद 2004 में सरकार ने ब्रोड बेन पालिसी बनाई | जिसके बाद इन्टरनेट की स्पीड 256 kb प्रीति सेकेण्ड हो गई थी | लगभग 8 साल ऐसे ही चलता रहा | इसके बाद 10 अप्रैल 2012 को एयरटेल ने 4G सर्विसेस की सुरुआत की थी | तब से इन्टरनेट में चार चाँद लग गए | इसके बाद सारी कंपनियों ने इसी रस्ते पर चलना सुरू कर दिया | और सभी कंपनियों ने 4G सर्विसेस को लाँच कर दिया |

इसके बाद 5 सितम्बर 2016 को मुकेश अम्बानी ने जियो जैसी रिलैंस कम्पनी को लाँच करके सभी कंपनियों को पीछे छोड़ दिया |

अब आप सोंच रहे होंगे कि इन्टरनेट का मालिक कौन है | इस सवाल का जबाब थोडा मुस्किल है | क्योकि इन्टरनेट का मालिक कोई एक पर्सनल व्यक्ति नही हो सकता | एक तरह से देखें तो इन्टरनेट एक विशाल नेटवर्क है | जोकि बहुत सारे स्ट्रक्चर से मिलकर बना है | इसलिए इन सब का मालिक एक होना असंभव है | अगर इन सभी विशालकाय नेटवर्क के हिसाब से देखे तो इसके कई सारे मालिक हो सकते हैं | क्योकि इन्टरनेट को चलने के लिए ऑप्टिकल केबल्स, डोमेन, सर्वर, होस्टिंग आदि की जरूरत पड़ती है | जिसके सब अलग-अलग मालिक होते हैं |

तो उम्मीद करता हूँ कि आज आप जान चुके होंगे कि इन्टरनेट कैसे चलता है | और इसका कौन मालिक है |


सोमवार, 12 अक्तूबर 2020

नये Blog पर Traffic कैसे लाएं- website par traffic kaise laye

website par traffic kaise laye

नये Blog पर Traffic कैसे लाएं- website par traffic kaise laye

दोस्तों अगर आपने अभी एक नया नया ब्लॉग स्टार्ट किया है | और उस पर ट्रैफिक बिल्कुल भी नहीं आ रहा है | तो आप सोच रहे होंगे कि हम इसने ब्लॉग पर शुरुआती दौर में ट्रैफिक कहां से लाएं | कैसे लाएं ताकि हमारी ज्यादा से ज्यादा अर्निंग हो सके | आने वाले दिनों में बहुत से लोग ब्लॉग बनाकर शुरुआती दौर से ही गलतियां करने लगते हैं |  वह अपनी वेबसाइट की बहुत ज्यादा संख्या में बैकलिंक्स बनाते हैं | और फिर ब्लॉग बहुत तेजी से ऊपर उठता है | फिर एकदम से नीचे गिर जाता है | तो ऐसे में हम डिमोटिवेट हो जाते हैं |


और काम करना बंद कर देते हैं | तो अगर आपने एक नया ब्लॉग बनाया है तो सबसे पहले बैकलिंक्स ना बनाएं | मैं आपको मैं बताने वाला हूं कुछ ऐसे तरीके जहां से आप ट्राफिक लाएं | ताकि आपका ब्लॉग धीरे-धीरे ऊपर उठे और हमेशा रैंक में बना रहे | इसके लिए आप अपने ब्लॉग पर जो आर्टिकल लिखें वह क्वालिटी बेस होने चाहिए | चलिए बात करते हैं अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कहां से और कैसे लाएं |


1. दोस्तों सबसे पहले आप क्या करते हैं कि आपने 1-2 आर्टिकल लिखा और उन्हें सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं | और जब लोग उसको देखते हैं उस पर क्लिक करते हैं | लेकिन क्लिक करने के बाद वह कई कई मिनटों तक लोडिंग लेता रहता है | और तब जाकर आपका ब्लॉग खुलता है | तो ऐसे में यूजर्स परेशान होकर बैक चले जाते हैं |


इससे आपका ब्लॉग धीरे-धीरे रैंक से पीछे हटने लगता है | इसलिए ध्यान देने वाली बात यह है कि आप अपने ब्लॉग वेबसाइट की स्पीड बहुत ज्यादा इनक्रीस करें | अब ब्लॉक की स्पीड इंक्रीज करने के लिए आपको एक अच्छी क्वालिटी की होस्टिंग खरीदनी होगी | जो आपके ब्लॉग को एक बेहतरीन सरवर दे सके | और आपके ब्लॉग की स्पीड एक रॉकेट की तरह काम करें |


2. दोस्तों नए ब्लाग पर बहुत से ब्लॉगर्स क्या करते हैं कि पोस्ट लिखते जाते हैं लिखते जाते हैं | कभी कोई SEO पर ध्यान नहीं देते हैं | तो ऐसे में उनका ब्लॉग धीरे-धीरे पीछे बैंक में जाता रहता है | आपको क्या करना है कि जब भी आप पोस्ट लिखें तो उससे पहले आपको एक अच्छा सा कीवर्ड रिसर्च करना है | आपने एक क्वालिटी बेस कीवर्ड रिसर्च कर लिया यानी आपने 50% काम कर लिया |

दोस्तों यदि आप नहीं जानते कि कीवर्ड रिसर्च क्या होती है तो मैं आपको बता दूं कि कीवर्ड उसे कहते हैं जो हम अपनी जानकारी के अनुसार कुछ भी गूगल पर सर्च करते हैं | उसे ही कीवर्ड कहते हैं | तो आपको भी आर्टिकल लिखने से पहले कीवर्ड रिसर्च करना है | तभी आपके ब्लॉग पर हाई अमाउंट में ट्रैफिक आएगा |


3. शुरुआती दौर में बहुत से ब्लॉगर्स क्या करते हैं कि कुछ भी उठा कर कहीं से भी डाल देते हैं अपने ब्लॉग पर | तो दोस्तों आपको ऐसा कुछ भी नहीं करना है | आपको एक क्वालिटी बेस आर्टिकल लिखना है | मैंने पहले भी बताया जब आपके आर्टिकल्स में दम होगी तभी आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आएगा | यदि आपका आर्टिकल क्वालिटी बेस नहीं है तो कोई भी यूजर्स आएगा और तुरंत वापस चला जाएगा | तो ऐसे में आपका ब्लॉग धीरे-धीरे पीछे रैंक में चला जाता है | तो आप जब भी नया ब्लॉग बनाएं तब आपको शुरुआती 50 से 60 आर्टिकल क्वालिटी बेस लिखने हैं | जो आपके ब्लॉग को गूगल रैंक में आने में मदद करें |


4. दोस्तों आपने कीवर्ड भी रिसर्च कर लिया एक क्वालिटी बेस आर्टिकल भी लिख लिया | इसके आगे मैंने आपको SEO के बारे में भी बताया है | जी हां आप को ऑन पेज SEO करना है | अगर आप ऑन पेज SEO नहीं करते हैं तो आपका आर्टिकल गूगल में रैंक नहीं करेगा | अगर आपको नहीं पता है कि ऑन पेज SEO क्या होता है तो आप हमारे ब्लॉग साइट की ब्लॉगिंग केटेगरी में जाकर ब्लॉगिंग से रिलेटेड बहुत सारी पोस्ट और आर्टिकल शामिल है | जिनमें मैंने SEO के बारे में फुल डिटेल से समझाया है | तो आप उन जानकारियों को पढ़कर अपने ब्लॉग पर ऑन पेज SEO जरूर करें |


5. दोस्तों शुरुआती दौर में बहुत से ब्लॉगर्स 1 दिन में कई कई सारी पोस्ट लिखकर ऐसे ही छोड़ देते हैं | और सोचते हैं कि ट्रैफिक अपने आप आ जाएगा तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है | आपको एक या दो पोस्ट लिखनी है रोजाना | और उनको सोशल मीडिया पर अच्छे से शेयर करना है | जहां से थोड़ा बहुत ट्राफिक आ सके | गूगल शुरुआती दौर में हमारे ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं भेजता है | हमें सोशल मीडिया से ही सहारा होता है |


इसलिए आपको ध्यान रहे जब भी आप कोई आर्टिकल लिखे तो उसे सोशल मीडिया जैसे- फेसबुक, यूट्यूब, टि्वटर, इंस्टाग्राम, पिंटरेस्ट या बहुत सारी सोशल मीडिया अकाउंट है | वहां जाकर आप अपने ब्लॉग पोस्ट को शेयर करेंगे | तो वहां से थोड़ा बहुत ट्राफिक आएगा | तब जाकर गूगल आपके इस आर्टिकल को इंडेक्स करके वहां से भी ट्रैफिक भेजना शुरु कर देगा |





शनिवार, 10 अक्तूबर 2020

डोमेन तथा होस्टिंग क्या है बारीकी से समझे- domain name kya hai

domain name kya hai

डोमेन तथा होस्टिंग क्या है बारीकी से समझे- domain name kya hai

दोस्तों आप एक अच्छा प्रोफेशनल ब्लॉग बनाना चाहते हैं | और यह नहीं जानते कि डोमेन और होस्टिंग क्या होती है | तो आप एक प्रोफेशनल ब्लॉग नहीं बना सकते | आज हम बात करने वाले हैं डोमेन और होस्टिंग के बारे में यह क्या होती हैं | और ब्लॉग में इसका क्या महत्व पूर्ण योगदान है | डोमेन और होस्टिंग कैसे परचेज करना है | और कहां से परचेज करना है |

डोमेन क्या है

दोस्तों जब आप गूगल पर कुछ भी सर्च करते हैं तब आपके सामने बहुत सारे रिजल्ट आते हैं | जिसमें डोमेन, टाइटल और डिस्क्रिप्शन शामिल होते हैं | यानी रास्ता, पता और घर, नहीं समझे तो चलिए जानते हैं विस्तार से |

जब आप गूगल पर कोई कीवर्ड लिखते हैं जैसे youtube | तब वह केवल यूट्यूब नहीं बल्कि www.youtube.com के रूप में डोमेन आता है | और केवल Youtube के रूप में टाइटल आता है | और नीचे छोटे अक्षरों में उसका डिस्क्रिप्शन लिखा होता है | अब यहां पर www.youtube.com मे .com एक डोमेन है |


जो यह दर्शाता है कि यह एक प्रोफेशनल ब्लॉग या वेबसाइट है | इंटरनेट एक बहुत बड़ी दुनिया है | जिसमें आपको यह बताना होता है कि आपका कंटेंट कहां पर है | इसलिए आपको एक एड्रेस की आवश्यकता होती है | और उस एड्रेस को ही डोमेन कहते हैं |

होस्टिंग क्या है

होस्टिंग एक ऐसी लोकेशन है जो आपके डोमेन को होस्ट करती है | रियल लाइफ की बात करें तो अगर आपने एड्रेस चूज कर लिया कि यह मेरा एड्रेस है | अब वहां पर हमारा घर होगा | तो घर बनाने के लिए हमें जमीन खरीदनी होगी | इसी जमीन को ही होस्टिंग कहते हैं | अगर ध्यान पूर्वक समझे तो हमारे डोमेन को मैनेज करने के लिए होस्टिंग बहुत जरूरी है |


जब होस्टिंग और डोमेन आपस में कनेक्ट होते हैं तब एक प्रोफेशनल ब्लॉग या वेबसाइट बन जाती है | यानी हमारा घर तैयार हो जाता है | अब इस घर में हमें क्या रखना है यह हम पर डिपेंड करता है | यानी हम अपने वेबसाइट के अंदर किस प्रकार का कंटेंट डालने वाले हैं यह आपको चूज करना है | 

डोमेन और होस्टिंग कहां से खरीदें

दोस्तों डोमेन और होस्टिंग खरीदने के लिए आपको कहीं मार्केट जाने की जरूरत नहीं है | यह सब ऑनलाइन प्रक्रिया है | जो इंटरनेट पर ही अवेलेबल होती है | बहुत सारी ऐसी वेबसाइट है जो हमें कम लागत में एक अच्छा डोमेन और होस्टिंग देती हैं | जैसे गोडैडी (Godaddy) हो गया | गूगल हो गया | और बहुत सारी वेबसाइट हैं जो अच्छे-अच्छे क्वालिटी के डोमैंस प्रदान करती हैं | इन वेबसाइट पर जाकर अपना डोमेन सिलेक्ट कर ले |


और पेमेंट कर दें वह वेबसाइट आपको डोमेन दे देगी | और उस डोमेन को आप अपने ब्लॉग से कनेक्ट करके एक प्रोफेशनल वेबसाइट बना सकते हैं |

दोस्तों अगर आपने एक डोमिन और होस्टिंग परचेस कर ली है | अब उसे आप अपने ब्लॉग से कनेक्ट नहीं कर पा रहे हैं तो हमारे इस वेबसाइट पर ब्लॉकिंग केटेगरी में ब्लॉग से रिलेटेड बहुत सारे आर्टिकल उपलब्ध हैं |


आप जाकर उनको पढ़कर एक बहुत ही प्रोफेशनल वेबसाइट तैयार कर सकते हैं | ब्लॉगिंग से रिलेटेड सारी जानकारी हमारे इस वेबसाइट पर अवेलेबल है | तो उम्मीद करता हूं कि आप जान चुके होंगे कि डोमेन और होस्टिंग क्या होती है |



जिओ इंटरनेट स्पीड बढ़ाए 3 गुना ज्यादा - jio ka net slow chal raha hai

jio ka net slow chal raha hai
जिओ इंटरनेट स्पीड बढ़ाए 3 गुना ज्यादा - jio ka net slow chal raha hai

क्या आपके पास जियो की सिम है | और उसकी इंटरनेट स्पीड बहुत स्लो है | कुछ भी डाउनलोड या अपलोड करना होता है तो घंटों लग जाते हैं | तो आज मैं आपको बताने वाला हूं इसकी एक एपीएन सेटिंग और उसके साथ एक ऐसा ट्रिक जो आपके फोन में 100% काम करेगा | इसमें आपको किसी भी एप्लीकेशन को इंस्टॉल करने की जरूरत नहीं है |


बस आपको इन्हीं दोनों ट्रिक्स को अप्लाई करना है अपने फोन में | इसके लिए आपके पास एक जिओ की सिम और उसमें डाटा होना चाहिए | मैं गारंटी के साथ कह सकता हूं कि आपके जिओ की इंटरनेट स्पीड 3 गुना ज्यादा पड़ जाएगी | अगर आप सही ढंग से इन दोनों ट्रिक्स को अप्लाई करते हैं अपने फोन में तो |

जिओ की इंटरनेट स्पीड कैसे बढ़ाए

1. सबसे पहले एपीएन सेटिंग के लिए आपको अपने फोन की सेटिंग को ओपन करना | फिर मोबाइल नेटवर्क के ऑप्शन पर क्लिक करके अपने जिओ की सिम को सेलेक्ट कर लेना है | इसके अंदर आपको एक्सेस प्वाइंट नेम के ऑप्शन पर क्लिक करके अंदर जाना है |


यहां पर अपने APN नेटवर्क को रिसेट कर देना है | फिर प्लस के ऑप्शन पर क्लिक करके एक नया नेटवर्क ऐड करना है | फिर आपको इसके अंदर खुला हुआ फॉर्म को फिल करना है |


Name - Jio 4G Max2.0

APN   - JioNet

Server- www.jio.com

Authentication type - PAP

APN Protocol - IPv4/IPv6

APN Roaming Protocol - IPv4/IPv6

Bearer - LTE, HSPAP, HSPA, HSUPA, EDGE, GPRS [Select Now]


दोस्तों इतना फॉर्म भरने के बाद आपको सेव के ऑप्शन पर क्लिक करके सेव कर देना है | फिर आपका यह ए पी ए नेटवर्क अप्लाई हो जाएगा | इसके बाद आपको अपनी इंटरनेट स्पीड चेक करनी है | पहले से आपको बहुत ही ज्यादा फर्क देखने को मिलेगा | चलिए बात कर लेते हैं दूसरे ट्रिक की |

2. जिओ की इंटरनेट स्पीड बढ़ाने की ट्रिक

दोस्तों जब आप जिओ की सिम से किसी को भी कॉल करते हैं तो आपको 4G नेटवर्क मिलता है | यानी कि इस समय आपकी इंटरनेट स्पीड बहुत ही ज्यादा होती है | पहले एपीएन सेटिंग करने के बाद आपको यही करना है |


जब आपको कुछ भी डाउनलोड या अपलोड करना हो तब आप किसी अपने दूसरे नंबर पर कॉल कर ले | कॉल चलने दे और आपको जो भी डाउनलोड या अपलोड करना है उसको डाउनलोड या अपलोड कर सकते हैं |


बहुत ही इंटरनेट स्पीड के साथ मैं भी ऐसे ही करता हूं | जब किसी वीडियो को अपलोड या डाउनलोड करना होता है | अपने दूसरे नंबर को कॉल करके डाउनलोडिंग पर लगा देता हूं | वह बहुत ही जल्दी फाइल डाउनलोड हो जाती है | तो दोस्तों है ना यह मजेदार ट्रिक्स | अपने फोन में जरूर ट्राई करें |






ब्लॉगिंग से कमाए ₹1 लाख प्रति महीना - blogging se paise kaise kamaye

blogging se paise kaise kamaye

ब्लॉगिंग से कमाए ₹1 लाख प्रति महीना - blogging se paise kaise kamaye

दोस्तों आज मैं आपके लिए लेकर आया हूं अर्निंग से रिलेटेड एक ऐसा मेथड जिसमें आप सोच नहीं सकते कि आपकी अर्निंग कितनी ज्यादा होने वाली है | यह एक पार्ट टाइम जॉब है | जो आपकी फुल टाइम जॉब को भी पीछे छोड़ सकती है | बस क्या है इस पर सही तरीके से काम करना है | लगभग पांच से छह महीनों में आप इतना ज्यादा कमाने लगेंगे कि आप अपनी जॉब तक भी छोड़ने पर मजबूर हो जाएंगे | जी हां आज मैं बात करने वाला हूं ब्लॉगिंग के बारे में |


दोस्तों ब्लॉगिंग एक ऐसा मेथड है पैसे कमाने का जरिया है जिसमें आप कुछ भी काम करते हैं ब्लॉगिंग से रिलेटेड | उसके बदले में आपको ब्लॉग पैसे देता है | तो आज हम बात करने वाले हैं कि ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं | और एक फ्री ब्लॉग कैसे बनाएं | उससे पहले कुछ ब्लॉग के बारे में इंपोर्टेंट जानकारी आपको मैं दे देता हूं |

ब्लॉग क्या है

दोस्तों ब्लॉगिंग के जरिए आप अपने ब्लॉग पर कुछ लिखते हैं | यानी कि इंटरनेट पर कुछ लिखते हैं | जो सारे लोगों में दर्शाया जाता है | जो इंटरनेट यूज करते हैं | अब आप लिखते क्या है यह आप पर डिपेंड है | जब आप गूगल पर कुछ भी सर्च करते हो तो बहुत सारी वेबसाइट और ब्लॉग आते हैं | और अपनी जानकारी के अनुसार किसी एक वेबसाइट पर जाकर आप उस जानकारी को हासिल करते हैं | तो आप यूजर्स कहलाते हो | लेकिन जब आप उसी जानकारी को गूगल पर खुद लिखते हो तो आप एक ब्लॉगर कहलाते हो |


इसमें आपको ना तो अपनी शक्ल दिखानी होती है और ना ही किसी से बात करनी पड़ती है | अगर आपको किसी भी फील्ड में नॉलेज है तो आप उस नॉलेज से रिलेटेड एक ब्लॉग बनाइए | और उस पर अपना नॉलेज शेयर करिए | जब आप की जानकारी लोगों को पसंद आएगी आपके ब्लॉग में ज्यादा ट्रैफिक आएगा तो आप सोच नहीं सकते कि ब्लॉग आपको कितना सारा पैसा देने वाला है |

फ्री ब्लॉग कैसे बनाएं

दोस्तों ब्लॉग बनाने के लिए कोई भी चार्ज नहीं देना पड़ता है | यह एकदम फ्री होता है | जो लोग बोलते हैं कि भाई हमें इतना पेमेंट कर दो मैं आपका एक ब्लॉक बना दूंगा | तो यह बिल्कुल गलत है आप किसी के बहकावे में ना आएं | ब्लॉग एकदम फ्री होता है और आप इसे बड़ी ही आसानी से बना सकते हैं | अपनी कैटेगरी से रिलेटेड एक प्रोफेशनल ब्लॉक बनाएं |


और उसका अच्छे से SEO करें | अगर आपको SEO से रिलेटेड जानकारी नहीं है | आप शुरुआती से ब्लॉग बनाए हैं | पहली बार ब्लॉग में आपको कोई भी जानकारी नहीं है तो आपको हमारे इस वेबसाइट पर बहुत सारी ब्लॉग से रिलेटेड पोस्ट मिल जाएंगी | जिनको आप पढ़ सकते हैं और एक प्रोफेशनल ब्लॉग बना सकते हैं |

ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए

दोस्तों ब्लॉग से पैसे कमाना बहुत ही आसान है | जब आप एक अच्छा ब्लॉग बना लेते हैं | और उस पर कुछ कंटेंट डालते हैं यानी जब कुछ लिखते हैं तब आपको उस ब्लॉग पर ऐड मिलना शुरू हो जाते हैं | अब यह डिपेंड करता है आपके ट्राफिक पर | कि आपके ब्लॉग पर कितना ज्यादा ट्राफिक आ रहा है |


जितना ज्यादा ट्रैफिक आएगा आपकी इनकम उतनी ही ज्यादा होगी | यानी ब्लॉग से अर्निंग की कोई लिमिट नहीं है | आप दिन का एक हजार से 1 लाख भी कमा सकते हैं | इसको आप अपनी जॉब के साथ पार्ट टाइम भी कर सकते हैं | या फुल टाइम भी कर सकते हैं |

प्रोफेशनल ब्लॉग कैसे बनाएं

दोस्तों प्रोफेशनल ब्लॉग बनाने के लिए आपको एक डोमेन और होस्टिंग को परचेस करने की जरूरत होती है | मैंने पहले भी बताया ब्लॉग दो तरीके से बनाया जाता है | एक तो फ्री वाला ब्लॉग | और एक प्रोफेशनल ब्लॉग | अगर आप बिगनर हैं तो आप फ्री वाला ब्लॉग बना सकते हैं | यदि आपके पास कुछ थोड़े बहुत पैसे हैं तो आप एक अच्छा सा डोमेन परचेज करके एक होस्टिंग परचेस कर लीजिए |


फिर उसको अपने ब्लॉग में ऐड करके एक प्रोफेशनल ब्लॉग बना लीजिए | यदि आपको पता नहीं है कि डोमेन और होस्टिंग कैसे परचेज करना है तो आप हमारी वेबसाइट की ब्लॉगिंग कैटेगरी में आपको ब्लॉगिंग से रिलेटेड डोमेन होस्टिंग की बहुत सारी पोस्ट मिल जाएंगी | उनको आप पढ़ कर किस तरह से डोमेन और होस्टिंग परचेस करनी है जान सकते हैं |


गुरुवार, 24 सितंबर 2020

इंस्टाग्राम से लाखों कैसे कमायें- instagram se paise kaise kamaye 2020

instagram se paise kaise kamaye 2020

इंस्टाग्राम से लाखों कैसे कमायें- instagram se paise kaise kamaye 2020


इंस्टाग्राम से आप इस तरह से पैसे कमा सकते हैं | बहुत सारे लोग परेशान रहते हैं और पूछते रहते हैं कि भाई इंस्टाग्राम से पैसे कैसे कमाए | तो आज मैं आपके लिए पूरा प्रोसेस लेकर आ गया हूं  | आज मैं आपको फुल डिटेल में बताऊंगा कि आप अपने इंस्टाग्राम से पैसे कैसे कमा सकते हैं | दोस्तों आपको बता दूं कि जब 2014-15 में इंस्टाग्राम आया था तब यह सिर्फ एक फोटो शेयरिंग का हीं ऐप था | 2016 के बाद इसकी लोकप्रियता ज्यादा हो गई | तब से इस पर लोग लाखों रुपए कमा रहे हैं |


अब आप कहेंगे कि हम कितना कमा सकते हैं | तो दोस्तों यह निश्चित नहीं है आप इंस्टाग्राम से आप ₹1 से लगाकर ₹1 लाख तक भी कमा सकते हैं | अब आप कहेंगे कि इसके लिए फ्लावर्स ज्यादा होने चाहिए | तभी हम पैसा कमा सकते हैं लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है | अगर आपके 100-200 फ्लावर्स भी है तब भी आप पैसा  कमा सकते हैं | लेकिन इंस्टाग्राम से पैसा कमाने के लिए आपको मेहनत ज्यादा से ज्यादा करनी होगी | आप सोच रहे होंगे कि मैं फेक फ्लावर्स लाकर पैसे कमा सकता हूं |


तो आप बिल्कुल गलत है | फेक फ्लावर्स से आपके इंस्टाग्राम अकाउंट फ्लावर्स तो होंगे लेकिन ट्रैफिक बिल्कुल भी नहीं आयेगा | जिससे आपको थोड़ी बहुत भी कमाई नहीं होने वाली है | इंस्टाग्राम से पैसे कमाने के लिए आपको रियल ट्राफिक लाना होगा | चलिए पैसा कैसे कमाना है जान लेते है |


1. Affiliate market

Affiliate market  के जरिए इंस्टाग्राम से पैसे कमाना बहुत ही आसान है | इसमें आप किसी दूसरी कंपनी के प्रोडक्ट को सेल करवाते हैं | और उससे जो कमीशन मिलता है वह हमें मिलता है | यानी अगर आप अमेजॉन के थ्रू कोई भी लिंक अपने अकाउंट पर शेयर करते हो तो वह प्रोडक्ट अगर कोई बंदा खरीदता है तो उसमें जो कमीशन बनता है वह आपके अकाउंट में ट्रांसफर कर देता है | इसके लिए आपको अपनी क्रेएक्टिविटी ज्यादा दिखानी होगी | ऐसा नहीं कि आप कुछ भी उठा कर डाल दो और वह आसानी सेल हो जाएगा | आपको एक अच्छा सा प्रोडक्ट लेना है जिसमें  लोग विश्वास करते हो | तभी उसको लोग खरीदेंगे |

2. Sponsorship

स्पॉन्सरशिप के जरिए भी पैसा कमाना बहुत आसान है | इसमें किसी अकाउंट की प्रोफाइल, किसी का फोटो या किसी का ऐड  आप अपने अकाउंट पर चला सकते हैं | इसके बदले आप उनसे परचेज कर सकते हैं | यह आप पर डिपेंड रहेगा कि किससे कितना परचेज करना है | जब आपके फ्लावर्स ज्यादा होंगे आपके अकाउंट में ट्राफिक ज्यादा आएगा तो आपको बहुत बड़ी-बड़ी स्पॉन्सरशिप मिलेंगी | वह लोग अपने उस प्रोडक्ट को प्रमोट करवाना चाहते हैं | इसीलिए जब वह आपसे कांटेक्ट करते हैं तब आप उसको प्रमोट करवाने के बदले में अच्छी खासी रकम ले सकते हैं  | इसे ही स्पॉन्सरशिप कहते हैं |

3.  अपना प्रोडक्ट सेल करें 

मान के चलिए आपके पास किसी प्रकार की कंपनी है या आप कोई दुकानदार है | जो बिल्कुल भी नहीं चल रही है | तो आप अपनी ही कंपनियां दुकान को प्रमोट कर सकते हैं | इंस्टाग्राम के थ्रू जब आपके इंस्टाग्राम ट्राफिक ज्यादा आएगा | तब आप अपनी कंपनी का कोई भी प्रोडक्ट अपने अकाउंट पर शेयर कर सकते हैं | और अपने  फ्लावर से चेक खरीदने के बारे में कह सकते हैं | इससे ज्यादा से ज्यादा लोगों ने दिखेगा | और उसको ज्यादा से ज्यादा लोग खरीदेंगे | इस प्रकार आप अपने खुद के प्रोडक्ट को भी प्रमोट कर सकते हैं | और अच्छे खासे अपने बिजनेस से  पैसे कमा सकते हैं |




इंटरनेट स्पीड बढ़ाने का तरीका - internet speed kaise badhaye

internet speed kaise badhaye


इंटरनेट स्पीड बढ़ाने का तरीका - internet speed kaise badhaye

आज के समय में हर कोई इंटरनेट यूज करता है | लेकिन उसका सही से मजा नहीं रह पाता | क्योंकि बहुत सारे लोगों को यह समस्या रहती है कि उनकी इंटरनेट स्पीड बहुत स्लो होती है | और वह कुछ भी डाउनलोड या अपलोड करना चाहते हैं इंटरनेट पर तो वह नहीं कर पाते | बहुत सारे लोग पूछते रहते हैं कि भाई  इंटरनेट स्पीड बढ़ाने का कोई तरीका है | जी हां आज मैं आपको बताने वाला हूं इंटरनेट स्पीड बढ़ाने के कुछ  ऐसे तरीके जिनको अपने फोन में अप्लाई करने के बाद आप की इंटरनेट स्पीड एक रॉकेट की तरह चलने लगेगी | और आप हर एक बड़ी से बड़ी फाइल को डाउनलोड और अपलोड कर पाएंगे | तो चलिए शुरू करते हैं |


आज मैं आपको इंटरनेट स्पीड बढ़ाने के 2 तरीके बताने वाला हूं |व् जिसमें पहला तरीका आपके इंटरनेट की स्पीड 50% बड़ा देगा | और दूसरा तरीका आपके इंटरनेट स्पीड को 100% बड़ा देगा | 

इंटरनेट स्पीड बढ़ाने का पहला तरीका

दोस्तों सबसे पहले आपको अपने फोन की सेटिंग में जाना है | अब आप सोच रहे होंगे यह तो वही तरीका है जो हर कोई बताता है | लेकिन मैं आपको कुछ अलग तरीके से बताने वाला हूँ | इसलिए जानकारी को पूरा पढ़ें और ध्यान पूर्वक फोन की सेटिंग में आने के बाद आपको कनेक्शन सेटिंग में जाना है | इसके बाद मोबाइल नेटवर्क के ऑप्शन पर क्लिक करना है | इसमें आपको नेटवर्क मोड एक ऑप्शन मिल जाएगा | इसके अंदर 2G, 3G, 2G-3G, 4G, Auto ऑप्शन होते हैं | इसमें से आपको Auto  का ऑप्शन हमेशा सिलेक्ट रखना है | क्योंकि अगर कोई एरिया में आपके 4G नेटवर्क नहीं है | तो आपको 2G-3G में से एक कनेक्शन मिल जाएगा | और आपकी इंटरनेट चलती रहेगी |

इसके बाद आपको नीचे एक्सेस प्वाइंट नेम  (Access point names) में जाना है | इसके अंदर आपकी जो सिम है | उस से रिलेटेड कनेक्शन की सारी जानकारी आ जाएगी | बहुत सारे लोग बोलते हैं कि इसका नेम चेंज करने से इंटरनेट की स्पीड बढ़ जाती है | तो यह बिल्कुल गलत है | ऐसा कुछ भी नहीं होता है | इसमें जो अलग सेटिंग होती है | वह मैं बताता हूं | आपको नीचे जाना है | आपको एक ऑप्शन मिलेगा APN Protocol जिसमें आपको (IPv4/IPv6) के ऑप्शन को हमेशा सेलेक्ट रखना है | इसके अलावा अगर आप रोमिंग में हो तो APN Roaming Protocol में भी (IPv4/IPv6) के ऑप्शन को सेलेक्ट करना है |

इसके नीचे आपको एक बेरियर ( Bearer) का ऑप्शन मिलेगा | जिसमें आपको Unspecified ऑप्शन सेलेक्ट मिलेगा | इसके साथ ही आपको LTE के ऑप्शन को भी सिलेक्ट कर लेना है | बस इस सेटिंग में इतना ही करना है | अब आपको ऊपर की तीन लाइन के ऑप्शन पर क्लिक करके सेव कर देना है |

अब आप ट्राई कर सकते हो कि इस सेटिंग के बाद आपके इंटरनेट की स्पीड पर कुछ फर्क पड़ा है या नहीं |

2. इंटरनेट स्पीड बढ़ाने का दूसरा तरीका

दोस्तों आप चाहे एयरटेल, जिओ, आइडिया, वोडाफोन  मैं से कोई भी सिम यूज करते हैं | आपके इंटरनेट की स्पीड 100% बड़ेगी | इसके लिए आपको करना क्या है | आप जिस भी कंपनी के सिम यूज कर रहे हैं | उस कंपनी के कस्टमर केयर को फोन करना है | रुको  मैं आपको बताता हूं कि उनसे बात क्या करनी है | जब आप कस्टमर केयर को फोन करें तब उनसे अपनी प्रॉब्लम बताएं | सबसे बड़ी आपकी प्रॉब्लम क्या होगी कि आपका  गूगल नहीं चल रहा होगा या यूट्यूब नहीं चल रहा होगा या फिर फेसबुक नहीं चल रहा होगा | तो ऐसे में आप कस्टमर केयर से शिकायत कर सकते हैं | वह आपके इन सभी प्लेटफार्म की इंटरनेट स्पीड को कंट्रोल करते हैं | तो ऐसे में आप जो भी प्लेटफार्म बताएंगे कि हमारे वहां यह समस्या है यहाँ पर यह प्लेटफार्म  नहीं चल रहा है | तो वह आपकी उन सभी समस्याओं का समाधान करेंगे |

तो आज मैंने आपको इंटरनेट स्पीड बढ़ाने के 2 तरीके बताएं | आप इन दोनों तरीकों को जरूर ट्राई करें | आपकी इंटरनेट स्पीड 100% बड़ जाएगी |



 



मंगलवार, 15 सितंबर 2020

ब्लॉगिंग क्या है- blogging kya hai in hindi

blogging kya hai

दोस्तों ब्लॉगिंग क्या है इस से पैसे कैसे कमाए जाते हैं
| ब्लॉगिंग एक पैसा कमाने का बहुत ही सरल जरिया है | इससे पैसा कमाना बहुत ही आसान है | लेकिन  उससे पहले यह जानना जरूरी है कि ब्लॉगिंग क्या है  इसमें हम कैसे काम करेंगे |

दोस्तों जब आप गूगल पर अपनी आवश्यकता के अनुसार कोई भी कीवर्ड सर्च करते हैं जैसे- "Health tips" तो गूगल हमारे सामने बहुत सारे परिणाम लेकर आता है |  और हमें हेल्थ टिप्स से रिलेटेड जानकारी मिल जाती है | दोस्तों क्या आपने सोचा है कि यह जानकारी कहां से आती हैं |आखिर इंटरनेट पर यह जानकारी कौन उपलब्ध कराता है | इंटरनेट पर उपलब्ध इस जानकारी को ही ब्लॉगिंग कहते हैं | ब्लॉगिंग के जरिए हम अपने मन की कोई भी स्टोरी लिख सकते हैं | और उसे लोगों से साझा कर सकते हैं | और साथ ही आपकी स्टोरी के साथ गूगल एड्स बेंचता है | जिससे गूगल  को अच्छी खासी अर्निंग होती है | उस आमदनी को कुछ परसेंट गूगल अपने पास रख लेता है | और बाकी लिखने वाले के खाते में ट्रांसफर कर देता है |

नहीं समझ में आया तो मैं आपको फिर से समझा रहा हूं | मान के चलिए आप एक मैकेनिक या इंजीनियर है |  आपको इससे रिलेटेड बहुत सारा ज्ञान है | और वह ज्ञान आप किसी को देना चाहते हैं | किसी को समझाना चाहते हैं | तो आप अपने इस ज्ञान को एक ब्लॉग यावेबसाइट के जरिए लोगों को दे सकते हैं |

ब्लॉगिंग शुरू करने के कुछ दिन बाद ही आपको गूगल ऐडसेंस की तरफ से एड मिल जाएंगे | और उनका ऐड्स को अपनी पोस्ट या आर्टिकल में लगाकर आप पैसे कमा सकते हैं | अन्य सोर्सेस से भी पैसे कमा सकते हैं | लेकिन ऐडसेंस से पैसे कमाने का सबसे बेहतरीन ऑप्शन होता है | इसके जरिए आपको बहुत ज्यादा कमाई होती है |

आपको बता दो कि आप इंटरनेट पर उसी जानकारी को शेयर करें जिसमें आपको इंटरेस्ट हो | यानी कि अगर आप एक डॉक्टर ने तो आप हेल्थ रिलेटेड ही जानकारियां उपलब्ध कराएं | आप इंजीनियर या टेक्नोलॉजी में इंटरेस्ट है तो  आप इन टॉपिक पर भी अपना ब्लॉग बना सकते हैं | कहने का मतलब है कि आपको जिस टॉपिक में लिखना बहुत अच्छा लगता हो |  उस टॉपिक की कैटेगरी के अनुसार ही अपना ब्लॉक बनाएं |

अब बात आती है कि मैं एक टेक्निकल हूँ | मुझे टेक से रिलेटेड बहुत सारा ज्ञान है | लेकिन मैं ब्लॉग नहीं जानता कि कैसे बनाएं | और उस पर काम कैसे करें | तो दोस्तों आप घबराइए मत हमें कीजिए फॉलो | और बने रहिए हमारे ब्लॉग पर और मैं आपको ब्लॉग से रिलेटेड सारी इनफार्मेशन उपलब्ध कराता रहूंगा | और आपको कभी पीछे नहीं हटने दूंगा |

Blog कैसे बनाएं

दोस्तों ब्लॉग को आप दो तरीकों से स्टार्ट कर सकते हैं | सबसे पहला फ्री वाला ब्लॉग और दूसरा प्रीपेड ब्लॉग |

फ्री ब्लॉग- फ्री ब्लॉग में आपको किसी भी प्रकार का खर्चा नहीं होने वाला है | इसमें सिर्फ आप अपनी जीमेल आईडी डाल कर आप अपना एक ब्लॉग तैयार कर सकते हैं | और अपनी जानकारी लोगों में साझा कर सकते हैं |

प्रीपेड ब्लॉग- इसमें सबसे पहले आपको एक डोमेंन की आवश्यकता होती है | यह डोमेन आपको गोडैडी जैसी बड़ी बेसाइड मिल जाएगा | यह प्रीपेड होता है | अब आप कहेंगे कि मैं डोमेन नहीं जानता हूं कि आप कैसा होता है | दोस्तों आपने हर एक वेबसाइट के लास्ट में देखा होगा .com, .in, .org लगा होता है | यही डोमेन होता है | इससे आपकी वेबसाइट एक प्रोफेशनल वेबसाइट बन जाती है | यानी अगर आप की वेबसाइट techhindi  के नाम से है | तो जब आप डोमेन खरीदेंगे  तब आपको .com  मिल जाएगा | तब जाकर आप की वेबसाइट techhindi.com  के रूप में तैयार हो जाएगी |

यही अगर आप फ्री वाला  ब्लॉग यूज करते हैं | तो इसमें आपको .com  तो मिलेगा लेकिन उससे पहले आपको blogspot  लगा मिलेगा | लेकिन हम फिर भी इन दोनों ब्लॉग से ही पैसे कमा सकते हैं |

 ब्लॉग पर काम कैसे करें

दोस्तों काम करने के लिए आपको अपना एक यूनिकॉर्टिकल तैयार करना है | आपको किसी भी दूसरे का आर्टिकल चोरी नहीं करना है | यानी आपको जो भी ज्ञान देना है | वह अपनी तरफ से एक प्रकार का यूनिक कंटेंट होना चाहिए | तभी आपको गूगल एड्स देगा | और उनको लगा कर आप कमाई कर सकते हैं | इसीलिए ध्यान रहे कि आप जो भी जानकारी दें अपनी तरफ से सही जानकारी हो |

तो बने रहीये हमारे साथ अगर आप ब्लॉगिंग स्टार्ट करना चाहते हैं तो आप स्टार्ट कर सकते हैं | और घबराने की कोई बात नहीं है | हम आपको ब्लॉग से रिलेटेड सारी जानकारी उपलब्ध  कराते रहेंगे |